Resume और CV में अंतर आसान भाषा में|

Difference between Resume and CV in Hindi, नमस्कार दोस्तों आप सभी का स्वागत है. हमारे और आप के अपने ब्लॉग हिंदी में सहायता पर जहां आज हम आपको resume और CV में अंतर बताएँगे वो भी आसान भाषा में. इससे पहले आर्टिकल में हमने आपको बताया था, CV की फुल फॉर्म और उस से जुडी कुछ अन्य जानकारी दी थी. आप उसे भी पढ़ सकते है.

Resume और CV दोनों की जरुरत एक पढ़े लिखे आदमी या औरत को जरुर पड़ती है, क्योकि रिज्यूमे और सीवी नौकरी पाने के के लिए आपकी मदद करते है. इनमे आपकी योग्यता और आपकी मेहनत लिखी होती है. कुछ कंपनी आपसे आपका resume मांगते है, तो वहीं कुछ कंपनी आपसे आपकी CV मांगती है. ये सब बाते कंपनी के ऊपर निर्भर करती है.

difference between resume and cv in hindi

Difference between resume and cv, लोगो को रिज्यूमे और स्व में अंतर मालूम नहीं होता और कई बार ऐसा देखा गया है की कैंडिडेट जहां CV लेकर जानी था वह resume लेकर चले गए और जिस कंपनी ने resume माँगा है वहा पर CV लेकर चले जाते है. इसी चक्कर में कई बार कैंडिडेट योग्य भी होता है तो उसको रिजेक्ट कर दिया जाता है. इसलिए आज हम आपका ये गलती को ठीक करने के लिए ही यह आये है और आज के बाद आप CV vs Resume, सीवी और रिज्यूमे के बीच कभी धोका नहीं खायेंगे.

पहले दोनों को अलग-अलग जान लेते है, उसके बाद दोनों में जो अंतर है उससे बढ़िया तरीके से आसान भाषा में समझा दिए जाओगे:

Resume क्या है – What is Resume in Hindi?

जैसे की आप जानते है resume जब कंपनी द्वारा माँगा जाता है तो समझ जाए की, रिज्यूमे वो फॉर्मेट है जिसमे आपके बारे में संक्षेप में मतलब शोर्ट में लिखा होता है. resume आपको आपके घर से इंटरव्यू तक ले जा सकता है इसलिए एक अच्छा रिज्यूमे लिखना बहुत जरुरी आपने बारे में और अपनी योग्यता को शोर्ट में लिखे तो कंपनी उससे इम्प्रेस हो सकती है. कम लाइन में आप अपने बारे में जितना अच्छा और संक्षेप में लिख सकते है उतना अच्छा रहेगा.

Also Read: गारंटी और वारंटी में अंतर आसान भाषा में |

रिज्यूमे में ज्यादातर जरुरी चीजे संक्षेप में लिखी होती है मतलब आपकी क्या योग्यता है आपमें क्या कोशल है, आपकी क्वालिफिकेशन क्या है और आपके पास क्या डिग्री है. आपने किस छेत्र में अच्छे है. Resume में आपके अनुभव मलतब आपने तजुर्बे के बारे में भी लिखा जाता है. Resume एक से दो पेज का ही होता है रिज्यूमे ज्यादा बड़ा नहीं होता. Resume में सिर्फ जरुरी बाते लिखी जाती है, ये नहीं की आपने उसमे सब भर दिया जो आपकी क्वालिफिकेशन है और आपकी क्या हॉबी है जो नहीं लिखना चाहिए था वो भी लिख दिया. उसमे सिर्फ वे अचिवेमेंट लिखी जाती है, जो जॉब के लिए मांगी गयी है या आपको जॉब दिला सकते है. उधारण के तोर पर अगर उनको कोई ग्राफ़िक मास्टर चाहिए और आपने आपका कोशल मतलब आपनी स्किल प्रोग्रामिंग लिख दी तो ऐसे नहीं करना होता है. जो जरुरी होता है वाही लिखना होता. जिस रिज्यूमे में सिर्फ काम की बाते लिखी हो वोही एक अच्छा कैंडिडेट और रिज्यूमे के रूप में आगे आता है. रिज्यूमे में ऊपर-ऊपर से नजर डाली जाती है. इसको ज्यादा गोर से नहीं पढ़ा जाता है.

Resume Template –  रिज्यूमे के कुछ उधारण!

हमने आपको निचे कुछ रिज्यूमे के टेम्पलेट दिखाए है जो की novoresume.com की मदद से लिए जाये और इन सभी रिज्यूमे टेम्पलेट के क्रेडिट्स इन्ही को जाते है. इस वेबसाइट पर काफी अच्छे resume के उधारण देखने को मिल जायेंगे हो आपकी जॉब पाने में मदद कर सकती है. और उस पुराने resume के सिंपल डिजाईन से अलग होने के कारण आप इंटरव्यू में आपको रिज्यूमे अलग ही दिखेगा.

1. रिज्यूमे का पहला उधारण जिसमे बहुत ही आसानी से सब कुछ बताया हुवा है और समजने में भी आसान है. ऊपर से नजर डालने में ही सभ कुछ समज आ जाता है. की क्या स्किल है और क्या तजुर्बा कैंडिडेट के पास है.

resume templates
Credit to novoresume.com

2. Resume template and example, दूसरी रिज्यूमे टेम्पलेट में फोटो का भी इस्तेमाल किया गया है. ये भी आसानी से समजा जा सकता है.

resume templates

3. Resume का ये उधारण एक सिंपल और मिनिमल रिज्यूमे टेम्पलेट है जो समझने और बनाने दोनों के लिए आसान है इसका मतलब ये कैंडिडेट के लिए भी अच्छा और इंटरव्यू करने वाले के लिए तो ये अच्छा है और इसको वह कम समय में आसानी से समज जायेंगा.

Resume और CV में अंतर आसान भाषा में|

4. रिज्यूमे का ये भी एक बहुत ही अच्छा और आसानी से समज में आने वाला उधारण या आप इसको टेम्पलेट भी कह सकते है जिसमे आपके नाम के निचे आपके बारे में संक्षेप में लिखा है और बराबर में आपका फोटो लगा है. ये बहुत ही आकर्षित करने वाला एक उधारण है.resume ke examples5. रिज्यूमे के इस टेम्पलेट में भी आपके नाम के निचे आपकी स्किल और तजुर्बा भी कह सकते है वो लिखा है और साइड में आपकी तस्वीर लिखी हुई है और आपकी स्किल्स को हरे रंग के साथ हाईलाइट किया गया जिससे Resume पढने वाले का ध्यान आपकी खूबियों की ओर जाता है.

रिज्यूमे के उधारण

6. Resume की इस उधारण में आपके बारे में बहुत अच्छी तरह से लिखा हुवा है जिसमे आपका फोट है और आपकी सभी कांटेक्ट यानि सम्पर्क के लिए जो जानकारी है वो एक काली पट्टी पर लिखी है जो एक बहुत ही अच्छी बात है. और आपकी स्किल्स के सामने रेटिंग है जो बताती की आप को कोंसी स्किल ज्यादा आती है और कोंसी स्किल में आप हाथ कमजोर है.

रिज्यूमे

जैसे की हमने आपको बताये है की ये सभी उधारण ऊपर दिए गए साईट से लिए गए जिस पर जाकर आप बिलकुल आइसे जी रिज्यूमे बना सकते है और अन्य कैंडिडेट से अलग दिख सकते है क्योकि ऐसे टेम्पलेट में आपकी सभी जानकरी अलग ही दिखती है और जो जानकरी एक कंपनी को या जो स्किल कोई कंपनी को जिस नौकरी के लिए जो स्किल चाहिए होती है वो स्किल उसको आपके रिज्यूमे अलग से उसकी आँखों में रिफ्लेक्ट होती दिखती रहती है.

सीवी क्या है – What is CV in Hindi?

CV का मतलब है Curriculum Vitae. इसको लैटिन भाषा से से लाया गया है जिसका मतलब होता है, “Course of Life”. इसमें सब कुछ आपके बारे में ही लिखा होता है और इसमें कितने पेज होंगे वो आपके ऊपर निर्भर करता है, जैसे यदि आपके पास मल्टीप्ल डिग्री है तो आपका CV बड़ा होगा उसके CV से जिसने सिर्फ 10+2 या सिर्फ उसके पास एक ही डिग्री है. इसकी लम्बाई 2-3 पेज होती है और ये बढ़कर 4-5 भी जा सकती है.

CV में आपके बारे में सभी डिटेल जैसे: आपकी सभी कौशल (Skills), सभी जॉब्स जितनी भी आपने की है और उन जॉब्स में आपकी क्या पद(position) रही है. आपकी सभी डिग्री और पेशेवर(professional) डिग्री भी लिखी जाती है. CV में आप अपने सभी उपलब्धियों के बारे में लिख सकते है और आज तक आपने जितने काम किये है उसमे आप अपना काम, आपका क्या किरदार, अपने उस काम से क्या हासिल किया, आपकी क्या उपलब्धिया लिख सकते है.

CV में आप उन चेतावनियों के बारे में भी लिख सकते जो की आपने अपनी लाइफ में सकारात्मक रूप से उनका जवाब दिया है. CV को ज्यादातर नए लड़के-लडकियों से माँगा जाता है मतलब फ्रेशेर्स से ही माँगा जात है. ये हमेशा इंटरव्यू में मांगी जाती है. जॉब बदलने हेतु भी आप इसका प्रयोग कर सकते है.

CV कैसे लिखी जाती है वो हमने आपको इससे पहले आर्टिकल में बहुत अच्छी तरीके से बताई गयी आप उसे भी पढ़ सकते है: CV कैसे लिखे?

CV कैसे लिखे है वो हम आपको इस आर्टिकल में भी संक्षेप में समझा दिया गया है:

CV कैसे लिखे?

1. सम्पर्क सूत्र(कांटेक्ट इनफार्मेशन)

इसमें आपको अपनी CV में आपका नाम, फ़ोन नंबर, ईमेल एड्रेस और आप अपने घर का पता भी डाल सकते है. इस इनफार्मेशन से कंपनी को आपसे संपर्क करने में आसानी होती है.

2. विधा-संबंधी (अकादमिक इनफार्मेशन)

इसमें आपको आपके शेक्षिकता के बारे में लिखना होता है अगर आपको इसको उल्टा लिखे तो ये होर भी बेहतर रहेगा. जैसे पहले प्रोफेशनल डिग्री, साधारण डिग्री, ग्रेजुएशन, 12 वी,10 वी. आप इसमें तारिक भी लगा सकते है और सिर्फ दो हल के ही लिखने होते है.

3. नौकरी और पद (प्रोफेशनल एक्सपीरियंस)

इसमें आपको कंपनी और संस्था जिसके लिए आपने काम किया है, किस पद पर काम किया है और किस तारिक को आपकी न्युक्ति हवी थी आपने कब तक काम किया.

4. उचिल कौशल और योग्यता

सबसे पहले जॉब के बारे में बढ़िया तरीके से दो तीन बार पढ़िए फिर उस नौकरी की हिसाब से ही आप अपने स्किल्स और और योग्यता एक अलग सेक्शन में अपने CV में लिखी चाहिए.

5. आदर और पुरुष्कार (हॉनर और अवार्ड्स)

CV में आपको मिले आदर और पुरुष्कार भी लिख सकते है इसके लिए अलग सेक्शन बनाये और उसमे अवार्ड्स का नाम कंपनी और संस्था के नाम के साथ लिखे और किस काम या योग्यता के लिए आपको वो मिला था और किस साल में मिला था. आपके अवार्ड्स और हॉनर ही आपको और आपके कौशल को प्रकाशित करते है.

6. प्रशंसा पत्र (सर्टिफिकेट)

अपने CV में आप अपने सर्टिफिकेट को भी लिख सकते है जैसे सर्टिफिकेट का नाम, किस आर्गेनाईजेशन या कंपनी दुवारा दिया गया, अपने उससे क्या कोष प्राप्त किया. सर्टिफिकेट को आप अपने CV के साथ भी लगा सकते है.

7.शोंक (हॉबी)

आपकी हॉबी क्या है? वो भी आप अपनी CV में लिख सकते है ये आपकी पर्सनालिटी को रिफ्लेक्ट करती है की आप किस प्रकार के व्यक्ति हो.

Also Read: Meesho app से पैसे कैसे कमाए?

8. प्रेजेंटेशन

आप अपने CV में आपकी कुछ प्रेजेंटेशन भी सामिल कर सकते आप उनके नाम और उनके बारे में कुछ लिख सकते है, जिससे की जब आप इंटरव्यू में जाते है.

CV Templates – CV के कुछ उधारण!

ये सभी CV के टेम्पलेट हमने novoresume.com से लिए इन सभी फोटो या स्व टेम्पलेट के क्रेडिट्स इसी साईट को जाते है.

Resume Vs CV in Hindi – Resume और CV में अंतर

आगे हमने आपको एक टेबल के माध्यम से इनमे बेसिक जो भी लिखने में जो भी फर्क है वो समझाया गया है, की Resume में क्या-क्या लिखते है और CV में उससे भिन्न क्या लिखते है.

1. जैसे की आप इस CV template सीवी के इस उधारण को देख पा रहे है ये बहुत ही सिंपल है लिखने के लिए भी और समझने के लिए भी और इसमें ही नहीं बल्कि सभी में आपको नाम के निचे के समरी मिल जाती है, जो आपको चिन्हित करती है की आपका सफ़र कैसा रहा.

cv templates
credits to novoresume.com

2. ये CV example भी बहुत ही प्रेरणादायक है जिसे आप प्रयोग कर सकते है इसमें सभी बाते आराम से निखर कर अलग सी दिखाई पड़ती है और इसके फॉर्मेट आँखों को आकर्षित करता है.

cv examples

3. इस CV template में बहुत ही सफाई के साथ आपकी जो स्किल्स है जिनमे आप मास्टर है वो हाईलाइट किये गए जो कंपनी को आकर्षित करने के लिए खाफी है और सरलता के साथ सभ कुछ आपके बारे में इस सीवी में लिखा हुवा है.

सीवी के उधारण

Difference between Resume and CV in Hindi

Resume में क्या लिखा जाता है?CV में क्या लिखा जाता है?
  • पूरा नाम.
  • पूरा नाम.
  • नौकरी का नाम, या जो नौकरी के लिए आप आवेदन कर रहे है उसका नाम.
  • सम्पर्क करने के लिए आपकी जानकारी (कांटेक्ट इनफार्मेशन).
  • सम्पर्क करने के लिए आपकी जानकारी (कांटेक्ट इनफार्मेशन).
  • अपने बारे में आपने क्या किया है और किस्मे एक्सपर्ट मतलब अपने बारे में समरी.
  • लक्ष्य.
  • आपकी दिलचस्पिया / आदते.
  • तजुर्बा/अनुभव.
  • शिक्षा – एजुकेशन.
  • शिक्षा.
  • जो नौकरी आपने पहले की हुई है उसकी जानकारी, कहा की है और किस पद पर की है.
  • उचित कौशल/स्किल्स.
  • अनुभव कैसा भी.
  • भाषा और कुशलता.
  • नौकरी के लिए जो जरुरी है वो अनुभव
  • उचित प्रमाण – सर्टिफिकेट्स.
  • जो काम या नौकरी की है उसका अनुभव.
  • दिलचस्पिया – Interests
  • आपके द्वारा किया गया कोर्स.
  • कोशल – स्किल्स.
  • प्रमाण – सर्टिफिकेट्स.
  • भाषा जितनी भी आप जानते है.
  • इवेंट्स जिनमे आप गए हो.

1. लम्बाई

अगर हम बात करे तो की दोनों कितने पेज में लिखे जाते है. Resume ज्यादा तर एक पेज का होता है, ज्यादा से ज्यादा मामलो में और कैंडिडेट इसको एक पेज का ही देखा जाता है. वही बात कर अगर हम CV की तो ये Resume से लम्बा होता है और ये 2-3 पेज का होता ये होर बड़ा भी हो सकता है वो निर्भर करता है आपके तजुर्बे और काम पर.

2. Resume और CV कौन कहाँ पर इस्तेमाल किया जाता है?

अगर हम ये बात करे की CV किस चीज को देखने के लिए कंपनी मांग कर रही है तो CV के जरिये आपके अकादमिक क्वालिफिकेशन को देखने के लिए और ये ज्यदातर बड़ी नौकरी जैसे: खोज करना(रिसर्च), Ph.D., और यदि आप किसी यूनिवर्सिटी के स्टाफ या कोई भी अन्य बड़ा प्रोग्राम होगया उसके लिए CV का इस्तेमाल किया जाता है. अगर हम बात करे Resume की तो ये ज्यादातर आपसे साधारण नौकरी के लिए जब आप अप्लाई कर रहे होते हो तब माँगा जाता है और ज्यादातर रिज्यूमे ही प्रयोग ज्यादा होता है.

Also Read: Stock Market in Hindi

निष्कर्ष – Summary

इस जानकारी से आपने क्या सिखा जरा एक बार उसको दोहरा लेता है. अपने सिखा की: Resume हो होता है वो CV से छोटा होता है और सीवी में आपके बारे रिज्यूमे से अधिक जानकारी लिखी होती है और ये ज्यादा पेज का भी होता है.

CV में आपके बारे में सब कुछ आ जाता है आपकी पूरी पढाई-लिखी आपने क्या अचीव किया आपको क्या सम्मान मिले है और आपने खा क्या काम किया है. Resume के अंदर कम जानकारी और पूरी जानकारी नहीं लिखी जाती जो आवश्यक है वाही लिखा जाता है.

अंतर: रिज्यूमे एक पेज का होता है और अधिकतर दो पेज. वही सीवी दो-तीन पेज से लेकर 4 पेज तक भी जा सकता है. Resume लगभग सभी नौकरी में चल जाता है और CV कोई स्पेसिफिक और ज्यादातर बड़ी नौकरी के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता है.

अगर आपको हमारे दुवारा दी गयी जानकारी पसंद आई है तो हमें कमेंट कर जरुर बताये और अगर आपको हमारे आर्टिकल में कुछ गलती लगती है या फिर आप हमारे इस या अन्य किसी आर्टिकल में सुधर चाहते है तो आप हमें कमेंट कर जरुर बताये. धन्यवाद.

Leave a Comment